Breaking News
पुलवामा आतंकी हमला : फरीदाबाद में आक्रोशित लोगों ने निकाली रैली, शहीदों को दी श्रद्धांजलि केंद्रीय मंत्री अश्विनी कुमार चौबे तारेगना-मसौढ़ी के शहीद के परिवार से मिलने के बाद अमर शहीद रतन के परिवार से मिलने कहलगांव-भागलपुर हुए रवाना पुलवामा में शहीद हुए मसौढ़ी के संजय सिन्हा के परिवार से मिले केंद्रीय राज्य मंत्री श्री अश्विनी चौबे डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय आधी रात को निकल पड़े, पटना के दो थानेदारों पर गिर गई गाज हरियाणा-महाराष्ट्र में माटी और खून का रिश्ता : देवेंद्र फडऩवीस पिता नहीं चाहते थे कि बेटा पढ़ाई करे, महज 21 की उम्र में IAS बन कर रच दिया कीर्तिमान ब्रांड बिहार : कभी बस की छत पर मोतिहारी जाते थे राकेश पांडेय, अब दुनिया को कैंसर से बचा रहे हैं 23 मार्च से भारत में ही होगा आईपीएल प्रधानमंत्री जी जो कहते हैं वह करते हैं: अश्विनी चौबे सरकार की प्राथमिकता सबका साथ सबका विकास कैट का रिजल्ट जारी, टॉप में बिहार से एक छात्र

फेक न्यूज रोकने को लेकर भारत में फेसबुक की नई पहल

सोशल नेटवर्किंग साइट फेसबुक ने भारत में फेक न्यूज को रोकने के अपने प्रयास को विस्तार देते हुए न्यूज एजेंसी एएफपी से हाथ मिलाया है। फेसबुक ने अपने प्लेटफॉर्म पर ऐसी खबरें रोकने के लिए तीसरे पक्ष के तथ्य जांच कार्यक्रम के तहत एएफपी को साथ जोड़ा है। अमेरिकी कंपनी फेसबुक ने यह कदम भारत में अगले साल होने वाले आम चुनावों के मद्देनजर उठाया है।इससे पहले फेसबुक ने फेक न्यूज रोकने के लिए इस साल अप्रैल में ‘बूम’ के साथ साझेदारी की थी। हाल के वर्षों में फेसबुक पर फर्जी फोटो और वीडियो पोस्ट करने के मामले तेजी बढ़े हैं। इसका चुनावों पर खासा असर पड़ता है। इतना ही नहीं, सांप्रदायिक सौहार्द बिगाड़ने में फेक न्यूज, फोटो और वीडियो आग में घी का काम करते हैं। फेसबुक न्यूज पार्टनरशिप लीड (इंडिया) के मनीष खंडूरी ने बताया कि हमारा मुख्य उद्देश्य इस तरह की फर्जी सूचनाओं और खबरों पर रोक लगाना है।

इस दिशा में कंपनी ने कई ठोस कदम उठाए हैं और अपने यूजर्स को सावधान करने काम किया है। साथ ही उन्होंने बताया कि फर्जी न्यूज रोकने की दिशा में हम लगातार प्रयास करते रहेंगे। फेसबुक ने भारत की तरह ही अमेरिका, फ्रांस, इटली, नीदरलैंड्स, जर्मनी, मैक्सिको, इ़ंडोनेशिया और फिलीपींस में भी फर्जी खबरों पर विराम लगाने के लिए अभियान चला रखा है।

चाणक्य लाइव न्यूज़