Breaking News
विदाई समारोह में कैंपस में बिताए व सिखाए गए पल को याद कर भावुक हुए छात्र पंकज मिश्रा बने पायनियर हिंदी दैनिक हरियाणा के राजनीतिक संपादक समापन समारोह स्थिरता के मुद्दों पर पैनल विचार-विमर्श का साक्षी बना डी.ए.वी. शताब्दी कॉलेज में अंतर जिला स्तरीय विज्ञान प्रदशर्नी का हुआ समापन डी.ए.वी. शताब्दी कॉलेज, फरीदाबाद ने अंतर जिला स्तरीय विज्ञान प्रदशर्नी का पहला दिन छात्रों व सीए-सीएस ने संघीय बजट पर की परिचर्चा, बजट को विकसोन्मुखी बताया डीएवी शताब्दी कॉलेज में कैशलेस जागरूकता वीक की शुरूआत आत्मा के शुद्धि के बिना व्यक्तित्व विकास की कल्पना बेमानी: गुरू करमा तानपाई शहर की बेटी उद्यमी दमनदीप बांगा को मिला बिमस्टेक-सार्क वूमेन फोरम में सम्मान औद्योगिक नगरी फरीदाबाद के श्रद्धालुओं ने प्रकाश पर्व पर पटनासाहिब में मत्था टेका

खट्टर पाकिस्तानी नहीं हिंदुस्तानी, शरणार्थी नहीं पुरूषार्थी: विपुल गोयल

vipul new

फरीदाबाद: दो दशक पूर्व तक एशिया के औद्योगिक मनचस्टर में अपना विशेष स्थान रखने वाले फरीदाबाद की वर्तमान हालत एवं विकास के मुद्दों को लेकर फरीदाबाद के विधायक विपुल गोयल आज हरियाणा विधानसभा में खूब दहाड़े। उन्होंने क्षेत्र के उद्योगों को बढ़ावा देने एवं रोजगार उपलब्ध करवाने के लिए सरकार से एक मदर यूनिट लगवाने की मांग करते हुए कहा कि पिछली सरकार की गलत नीतियों के कारण फरीदाबाद नगर निगम पूरी तरह से कंगाल है और क्षेत्र में विकास नहीं हो पा रहे। उन्होंने नगर निगम को कम से कम ५०० करोड़ रूपए की ग्रांट दिए जाने की मांग भी सदन में रखी। उन्होंने कहा कि पिछली सरकार की गलत नीतियों एवं फरीदाबाद का शोषण किए जाने के कारण यहां से मेंहदी उद्योग भी पूरी तरह से पलायन कर गया। जबकि फरीदाबाद की मेहंदी पूरे विश्व में प्रसिद्ध रही है।
विधायक गोयल ने कहा कि फरीदाबाद के विकास के लिए आवश्यक है कि यहां के उद्योगों को बढ़ावा दिया जाए और मदर यूनिट लगाना सरकार की जिम्मेवारी है। सरकार को मदर यूनिट लगाने के लिए सस्ती दर पर जमीन उपलब्ध करवानी चाहिए। उन्होंने कहा कि पिछली सरकार ने हरियाणा में मेहंदी पर टैक्स लगा दिया था, जिसके कारण मेहंदी उद्योग यहां से राजस्थान पलायन कर गया। जबकि पूरे देश में कहीं ओर मेहंदी पर टैक्स नहीं लगता। उन्होंने राज्य सरकार से टैक्स समाप्त कर मेहंदी उद्योग को वापिस लाने के लिए भी आवाज विधानसभा में उठाई।
विपुल गोयल ने जहां शहर के विकास एवं उद्योगों की आवाज बुलंद की, वहीं झुग्गी-झौंपड़ी में रहने वाले गरीबों को भी आशियाना उपलब्ध करवाने की मांग की। उन्होंने कहा कि संपूर्ण विकास एवं अंत्योदय तभी संभव है, जब सरकार गरीबों के रहने की भी उचित व्यवस्था करें। फरीदाबाद में कई झुग्गी- झौंपड़ी कलस्टर हैं। सरकार को इस ओर भी ध्यान देना चाहिए।
विधायक गोयल ने उन लोगों पर भी गुस्सा उतारा जिन्होंने जाट आरक्षण के दौरान प्रदेश में हिंसा, आगजनी एवं लूटपाट जैसी घटनाओं को अंजाम दिया। उन्होंने रोष व्यक्त करते हुए कहा कि जिन लोगों ने प्रदेश के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर को पाकिस्तानी कह कर पुकारा, उन्हें शर्म आनी चाहिए। श्री गोयल ने कहा कि मनोहर लाल अखण्ड भारत के उस हिस्से में रहते थे, जो बंटवारे के समय पाकिस्तानी में चला गया और श्री खट्टर अपना सब कुछ छोडक़र भारत में आ गए। उन्होंने न धर्म परिवर्तन किया और न ही राष्ट्र परिवर्तन किया। वह एक सच्चे हिंदुस्तानी हैं और हमें इस पर गर्व है। वह यहां शरणार्थी नहीं पुरूषार्थी बन कर रहे। उन्होंने कभी भी शरणार्थियों के लिए आरक्षण नहीं मांगा, बल्कि पुरूषार्थ से जीए। उन्हें पाकिस्तानी कहने वालों के लिए इससे बड़ी शर्म की बात नहीं हो सकती।

विधायक विपुल गोयल ने आज जिस प्रकार शहर की समस्याएं एवं विकास के मुद्दे सदन में उठाए, शहर के लोगों में खुशी एवं उत्साह है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *