Breaking News
दीपावली पूजन के 11 खास बाते : आचार्य गौरव सहाय संगीत अलौकिक दुनिया से रूह को जोड़ती है: मीनू बांगा व्यक्तित्व विकास के जरिए कैंपस से कारपोरेट तक सफर हो सकता है पूरा: डॉ. सुनीति आहूजा युवा सोच व्यवसाय में ला रही नवीनता : राजीव चावला उद्योगपति एस.एस.बांगा के पहले संपादित पुस्तक ‘तिहाड़ से हरिद्वार’ का हुआ विमोचन बृजनट मंडली द्वारा नाटक दो वर्दियां का किया गया मंचन अपने पैरों पर खड़े होकर युवा दूसरों को उपलब्ध कराएं रोजगार: कुलदीप दूसरों की मदद कर जीवन को सार्थक बनाने की जरूरत: डॉ. रामकुमार विदाई समारोह में कैंपस में बिताए व सिखाए गए पल को याद कर भावुक हुए छात्र पंकज मिश्रा बने पायनियर हिंदी दैनिक हरियाणा के राजनीतिक संपादक

विदाई समारोह में कैंपस में बिताए व सिखाए गए पल को याद कर भावुक हुए छात्र

3

फरीदाबाद।
एनएच तीन स्थित डीएवी शताब्दी कॉलेज में बीसीए विभाग के फेयरवेल पार्टी का आयोजन किया गया। इसकी अध्यक्षता प्रिंसिपल डॉ. सतीश आहूजा ने की। विदाई समारोह में छात्रों ने कैंपस में बिताए व सिखाए गए पल को याद कर भावुक हो उठे।
इससे पहले गणेश वंदना से कार्यक्रम की शुरूआत की गई। इसके बाद छात्रों ने सांस्कृतिक कार्यक्रम पेश कर सभी का मनमोह लिया। समारोह में मिस्टर फेयरवेल अभिषेक और मिस फेयरवेल निकिता को चुना गया। समारोह में आकर्षण का केंद्र प्रोफेसर सरोज कुमार के नेतृत्व में अंतिम वर्ष के स्टूडेंट्स ज्योति, मोनिका, कुंदन, संतोष, निहिर,चंदन, विशाल द्वारा प्रिंसिपल डॉ सतीश आहूजा के नाम से तैयार वेबसाइट था। इसके माध्यम से छात्रों ने कॉलेज से हमेशा जुड़े रहने का प्रयत्न किया। इसकी सभी ने जमकर तारीफ की। प्रिंसिपल डॉ.आहूजा ने कहा कि जीवन में स्पष्ट लक्ष्य होना जरूरी है। इसके बिना सतत प्रगति असंभव है। कैंपस में जीवन जीने की कला सिखाई जाती है। शैक्षणिक और व्यवहारिक रूप से इसे अपने जीवन में उतारने की जरूरत है। प्रिंसिपल डॉ. आहूजा की वेबसाइट पर उनके द्वारा दी गई मोटिवेशनल स्पीच को लिंक शेयर किया गया है। कार्यक्रम में विशिष्ट अतिथि के रूप में बीसीए की कोर्डिनेटर डॉ. सुनीति आहूजा छात्रों को आशीर्वाद देने के लिए उपस्थित थी। मंच संचालन आंचल, कुलभूषण और उत्तमा ने किया। कार्यक्रम को सफल बनाने में अंजलि मनचंदा और उर्वशी सपरा ने महत्वपूर्ण भूमिका का निर्वहन किया। इस अवसर पर डॉ. डी पी वैद, डॉ. सतीश सलूजा, डॉ. सविता भगत, ज्योति राणा आदि उपस्थित थे।
1

2

3

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *