Breaking News
चिकित्सीय उपकरण बनाने वाली कंपनियां बिहार में निवेश करेंगी- केन्द्रीय मंत्री अश्विनी चौबे ने दिया न्योता लालू यादव ने हाईकोर्ट से मांगी जमानत, जेल से जल्‍द निकलेंगे बाहर, बीमारी का दिया हवाला  (आरएसएस) प्रमुख मोहन भागवत का तीन दिवसीय पश्चिम बंगाल दौरा ममता बनर्जी सरकार के लिए सिरदर्द बन सकता है फरीदाबाद को देश का सबसे प्रदूषित बनाने में अधिकारियों का योगदान, पाराशर ने लिखा पीएम को पत्र योगेंद्र यादव ने देशवासियों के नाम पत्र लिखकर शुरू किया iCan19 -'राष्ट्रनिर्माण के लिए लोक अभियान, 2019' लखनऊ में नेहा कक्कड़ के लाइव कंसर्ट में मची भगदड़, बीच में छोड़ा प्रोग्राम राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के 150फिट के प्रतिमा के होने वाले भूमिपूजन का अवलोकन करने 8 को मुज़फ़्फ़रपुर पारू स्थित कामलपुरा में होंगे डीजी गुप्तेश्वर पांडेय। सेल्समैन पर पंच से हमला कर लूटा PUSU Election : वोटिंग खत्म… अब काउंटिंग का इंतजार… रात तक आएगा रिजल्ट मुज़फ़्फ़रपुर के इस लाल को दिल्ली में मिलेगा सम्मान

यूपी, बिहार और असम के कुछ इलाकों में भूकंप के झटके

उत्तर प्रदेश, बिहार और असम के कुछ हिस्सों में बुधवार सुबह दस बजे के करीब भूकंप के हल्के झटके महसूस किए गए. असम और बिहार के उत्तरी पूर्वी जिलों के अलावा पश्चिमी यूपी, पूर्वांचल और उत्तराखंड से सटे इलाकोंं में इसका अधिक असर देखा गया.images

भूकंप सर्वेक्षण संस्थान ने भूकंप के झटकों की पुष्टि करते हुए बताया कि इसका केंद्र असम के कोकराझार में था. विभाग के मुताबिक यह भूकंप 10 बजकर 22 मिनट 48 सेकेंड पर आया और इसके झटके 15 सेकेंड तक महसूस किए गए. इस भूकंप के बाद कई इलाकों से लोग घरों से बाहर निकल आए.  बिहार के भागलपुर, गोपालगंज, किशनगंज, खगड़िया, सहरसा, मधेपुरा में भी भूकंप के झटके महसूस किये गये हैं.
हालांकि अभी तक भूकंप की तीव्रता साफ नहीं हुई है, लेकिन माना जा रहा है कि रिक्टर स्केल पर इसकी तीव्रता पांच के आसपास है. फिलहाल कहीं से भी किसी तरह की जानमाल की क्षति की खबर नहीं है.

इससे पहले आज अहले सुबह जम्मू-कश्मीर और हरियाणा में कम तीव्रता वाले भूकंप के झटके महसूस किए गए. जम्मू कश्मीर में सुबह 05:15 बजे रिएक्टर स्केल 4.6 तीव्रता का भूकंप महसूस किया गया. उधर हरियाणा में भूकंप का केंद्र झज्जर बताया जा रहा है. यहां भी सुबह 05:43 बजे रिएक्टर स्केल 3.1 तीव्रता वाले भूकंप के झटके महसूस किए गए.


दो दिन पहले राजधानी दिल्ली में भी लगातार दो दिन भूकंप के हल्के झटके महसूस किए गए थे. इसका सेंटर भी मेरठ और हरियाणा बॉर्डर के आस-पास था.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *