Breaking News
पुलवामा आतंकी हमला : फरीदाबाद में आक्रोशित लोगों ने निकाली रैली, शहीदों को दी श्रद्धांजलि केंद्रीय मंत्री अश्विनी कुमार चौबे तारेगना-मसौढ़ी के शहीद के परिवार से मिलने के बाद अमर शहीद रतन के परिवार से मिलने कहलगांव-भागलपुर हुए रवाना पुलवामा में शहीद हुए मसौढ़ी के संजय सिन्हा के परिवार से मिले केंद्रीय राज्य मंत्री श्री अश्विनी चौबे डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय आधी रात को निकल पड़े, पटना के दो थानेदारों पर गिर गई गाज हरियाणा-महाराष्ट्र में माटी और खून का रिश्ता : देवेंद्र फडऩवीस पिता नहीं चाहते थे कि बेटा पढ़ाई करे, महज 21 की उम्र में IAS बन कर रच दिया कीर्तिमान ब्रांड बिहार : कभी बस की छत पर मोतिहारी जाते थे राकेश पांडेय, अब दुनिया को कैंसर से बचा रहे हैं 23 मार्च से भारत में ही होगा आईपीएल प्रधानमंत्री जी जो कहते हैं वह करते हैं: अश्विनी चौबे सरकार की प्राथमिकता सबका साथ सबका विकास कैट का रिजल्ट जारी, टॉप में बिहार से एक छात्र

”हेरिटेज ग्लोबल स्कूल में मनाया वार्षिक खेल उत्सव “

हेरिटेज ग्लोबल स्कूल, फरीदाबाद में वार्षिक खेल उत्सव बड़ी धूमधाम से सम्पन्न हुआ। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि थे श्री जतिंदर सिंह ठाकुर, जो टायकोंडों में 2 बार अंतर्राष्टीय स्वर्ण पदक विजेता तथा 3 बार राष्टीय स्तर पर स्वर्ण पदक विजेता रह चुके है। तथा इस समय दिल्ली पुलिस को आत्मरक्षा हेतु प्रशिक्षण दे रहे रहे हैं। स्कूल की प्रधानाचार्या श्रीमती राखी वर्मा ने फूलों का गुलदस्ता देकर उनका स्वागत किया। इसके बाद स्कूल का झंडा फहराकर कार्यक्रम का शुभारंभ किया। कार्यक्रम की शुरुवात परेड से हुई तथा चारों सदनों के कप्तानों ने अतिथियों को सलामी दी। इसके बाद कई प्रकार के खेल खेले गए जैसे – सैंक रेस , रस्साकशी , हर्डलरेस, रीले रेस आदि। सभी खिलाडियों ने पूरी खेल भावना के साथ खेल खेले। इसके अतिरिक्त दर्शकों के मनोरंजन के लिए बीच -बीच में रंगारंग कार्यक्रम भी प्रस्तुत किया गया जिनमें प्रमुख था एच्०.जी०.एस०.से संगीत शिक्षक श्री बलदेव सिंह बेदी द्वारा लिखित स्वागत गीत, जुम्बा डांस, एफ्रो कोक नृत्य ने तो दर्शकों का मन मोह लिया। आज के माहौल को देखते हुए हर किसी को स्वरक्षा करनी आनी चाहिए, इसी क्रम में एच्०.जी०.एस० के छात्र -छात्राओं को टायकोंडों का प्रशिक्षण श्री आकाश शर्मा (राष्टीय स्वर्ण पदक विजेता) के द्वारा दिया जाता है, जिसका एक नमूना भी छात्र -छात्राओं ने प्रस्तुत करके दर्शकों को दाँतों तले ऊँगली दबाने पर मजबूर कर दिया। मुख्य अतिथि ने सभी विजेताओं को पत्र तथा पदक भेंट किए, उन्होंने कहा कि जिन खिलाड़ियों को पदक नहीं मिल पाए है, उन्हें निराश होने की जरुरत नहीं है बल्कि और अभ्यास की जरुरत है। अंत में श्रीमती वर्मा ने मुख्य अतिथि तथा सभी अभिभावकों को धन्यवाद दिया तथा राष्टगान के साथ कार्यक्रम का समापन हुआ।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *